MP Ladli laxmi Yojana 2.0 | लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0

MP Ladli Laxmi Yojana 2.0 | Ladli Laxmi Yojana Kya Hai |Ladli Lakshmi Yojana 2.0 | Ladli Laxmi Yojna 2.0 MP | लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 | लाड़ली लक्ष्मी योजना की पात्रता

मध्य प्रदेश सरकार ने सन 2007 में लाडली लक्ष्मी योजना का शुभारंभ किया था और इस योजना ने अत्यधिक मात्रा में सफलता प्राप्त की है इसी के दूसरे चरण की शुरुआत करते हुए 8 मई 2022 को लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 की शुरुआत मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने की।

लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं लाडली के हित में कुछ भी कदम उठाकर उसे संपूर्ण एजुकेशन देखकर सशक्त बनाना चाहता हूं। हमारे प्रदेश की लाडली या कभी किसी के भरोसे पर मैं रखकर खुद अपने पैरों पर खड़ी होकर उससे उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकती है प्रदेश की सरकार उनके साथ खड़ी हुई है।

इस योजना से अब तक 42 लाख से भी ज्यादा बच्चियों को इसका फायदा मिला है। पहले यह योजना कक्षा बारहवीं तक शिक्षा के लिए राशि प्रदान करती थी लेकिन अभी प्रदेश की सरकार बच्चियों को उच्च शिक्षा भी मुफ्त में उपलब्ध करवाएगी।

12वीं कक्षा की पढ़ाई पूरी करने के बाद बच्ची अगर उत्तम शिक्षा जैसे कि डॉक्टर इंजीनियर या कोई अन्य डिग्री लेना चाहती है तो उसका पूरा खर्चा प्रदेश की सरकार उठाएगी। योजना के लागू होने के बाद बच्चियों के लिंगानुपात में काफी ज्यादा सुधार देखने को मिला है और लोगों की बच्चियों के प्रति जो सोच पहले की उसमें काफी बदलाव हो चुका है।

योजना का लाभ प्रत्येक परिवार की ज्यादा से ज्यादा दो बच्चियों को मिल सकता है और वह परिवार प्रदेश के बीपीएल परिवारों में आना चाहिए। प्रदेश सरकार द्वारा दी जाने वाली सहायता विभिन्न किस्तों में दी जाती है।

Ladli laxmi yojana 2.0

Ladli Laxmi Yojana 2.0 | लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0

हम बात कर रहे हैं की लाडली लक्ष्मी योजना क्या है और कैसे मध्यप्रदेश में यह योजना काफी सही साबित हुई है इससे प्रदेश की बच्चियों को काफी फायदा मिला है और इसी के साथ गरीब परिवार के लोग बच्चियों के जन्म पर खुशियां मनाने लगे हैं। योजना के आगे बढ़ने के साथ-साथ बच्चियों के लिंगानुपात जो कि पहले 927 होता था वहीं अब सुधारों पर 956 तक पहुंच गया है इसका मतलब यह है कि बच्चियों को लेकर लोगों की सोच सकारात्मक हो रही है।

सबसे पहले इस योजना की शुरुआत 1 अप्रैल 2007 में हुई थी इसी के उपलक्ष में सन 2022 में 8 मई को मेले का आयोजन किया गया तथा इसी को बढ़ावा देते हुए लाडली लक्ष्मी योजना 2.0 की शुरुआत मुख्यमंत्री जी द्वारा की गई।

योजना के तहत बच्चियों को 6 वीं कक्षा में होने पर ₹2000 की राशि प्रदान की जाती है तथा नौवीं कक्षा में होने पर ₹4000 की धन राशि प्रदान की जाती है उसके बाद बच्ची का 12वीं कक्षा में दाखिला लेने के बाद हर महीने ₹200 की राशि सीधे बच्ची के खाते में डाली जाती है। इसके बाद अगर बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करना चाहती है तो उसके लिए सरकार बच्ची की शिक्षा को मुफ्त प्रदान करना चाहती है साथी अगर बच्ची 21 साल होने तक शादी नहीं करती तो 21 साल पूरी होने के बाद सरकार 1 लाख रुप रुपए की राशि बच्चे के खाते में जमा कर देती है उस पैसे से लगेगी एजुकेशन या शादी में लगा सकती है।

सरकार ने 2 मई से 12 मई तक लाडली लक्ष्मी उत्सव मनाया है तथा साथ में सरकार ने लक्ष्मी संवाद एप्लीकेशन को भी लांच किया है इस एप्लीकेशन के माध्यम से बच्चियां सीधे चीफ मिनिस्टर शिवराज सिंह चौहान से बात कर सकते हैं।

आपको यह जानकारी कैसी लग रही है मैं कमेंट करके जरूर बताएं और अगर अच्छी लग रही है तो अपने दोस्तों में शेयर जरूर करें धन्यवाद।

यह भी पढे:- पीएम किसान खाद योजना 2022,मुख्यमंत्री मितान योजना 2022

Key Features of Ladli Laxmi Yojana 2.0

योजना का नामलाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0
मध्य प्रदेश सरकार द्वारा
कब शुरू की गईपहली बार 1 अप्रैल 2007 को तथा दूसरा वर्जन 8 मई 2022 को
लाभार्थी प्रदेश में बीपीएल परिवार की बच्चियों को ज्यादा से ज्यादा तो बच्चियां
योजना का उद्देश्यइस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश की बच्चियों को सशक्त तथा आत्मनिर्भर बनाना
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा
आधिकारिक वेबसाइटhttps://ladlilaxmi.mp.gov.in/
MP Ladli Laxmi Yojana 2.0

Ladli Laxmi Yojana Benefits | लाड़ली लक्ष्मी योजना के लाभ

  • लाड़ली लक्ष्मी योजना के द्वारा मध्य प्रदेश के बीपीएल परिवार की बच्चियों को शिक्षा प्राप्त करने के लिए योजना के द्वारा सहायता राशि प्रदान की जाती है।
  • इस योजना के तहत एक परिवार के ज्यादा से ज्यादा दो बच्चियों को लाभ प्राप्त हो सकता है ।
  • अगर दो बच्चियां जुड़वा हो तब तीसरी बच्ची को भी लाभ प्राप्त हो सकता है।
  • योजना के तहत ladli Lakshmi Yojana मे बच्ची के जन्म के 1 वर्ष के अंदर रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है।
  • इस योजना के तहत गोद ली हुई बच्ची को भी इस योजना का लाभ प्राप्त हो सकता है इसके लिए योजना के रजिस्ट्रेशन के समय गोदनामा के पेपर दिखाने होंगे या जमा करवाने होंगे।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए बच्ची की एजुकेशन बीच में छूट नहीं नहीं चाहिए यानी की बच्ची लगातार अपनी शिक्षा ग्रहण करते रहना चाहिए अगर ऐसा है तो बच्ची को योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा।
  • छठी कक्षा में होने पर बच्ची को ₹2000 की राशि की सहायता प्राप्त होगी।
  • इसके बाद नौवीं कक्षा में होने पर बच्ची को ₹4000 की राशि की सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी।
  • 11वीं कक्षा में होने पर ₹6000 की सहायता राशि प्राप्त होगी।
  • इसके बाद 12वीं कक्षा में होने पर प्रत्येक महीने ₹200 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • बारहवीं कक्षा के बाद अगर बच्चे उच्च शिक्षा जैसे डॉक्टर इंजीनियर आदि की पढ़ाई करना चाहती है तो मुफ्त में सरकार उसको एजुकेशन प्राप्त करवाएगी।
  • बच्चे की आयु 18 वर्ष पूरी होने के बाद तथा तब तक बच्ची अगर शादी नहीं करती है तो ₹25000 की सहायता सरकार द्वारा दी जाएगी।
  • लाडली लक्ष्मी योजना की अंतिम तिथि के 21 वर्ष पूरे होने के उपरांत तथा बच्ची 18 वर्ष या उससे पहले शादी नहीं की हो तो ₹100000 की सहायता राशि प्रदान करेगी जिसको की वह अपने विवाह या अपनी पढ़ाई के लिए इस्तेमाल कर सकती है।
  • किसी ने कक्षा में लाडली अगर स्कूल छोड़ देती है तो वह इस योजना से बाहर हो जाएगी और इसका लाभ मिलना बंद हो जाएगा।

लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए पात्रता और शर्तें

  • योजना का लाभ लेने के लिए बच्चे का जन्म 1 अप्रैल 2008 के बाद हुआ होना चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए बच्चे के जन्म के 1 वर्ष पूर्ण होने से पहले योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना अनिवार्य है।
  • बच्ची के माता-पिता मध्य प्रदेश के मूल निवासी होने चाहिए।
  • योजना का लाभ लेने के लिए बच्चे का जन्म बीपीएल परिवार में होना चाहिए।
  • योजना का लाभ लगातार जारी रखने के लिए बच्ची को शिक्षा लगातार ग्रहण करना जरूरी है अगर बीच में बच्चे पढ़ाई छोड़ देती है तो वह योजना के लाभ से वंचित हो जाएगी।
  • अगर किसी ने बच्ची को गोद लिया हो तो उसको पहली बच्ची मानकर योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • एक परिवार ज्यादा से ज्यादा दो बच्चियों का योजना में नाम जुड़वा सकते हैं दूसरी बच्ची का नाम जुड़ जाते समय बच्ची के माता-पिता द्वारा परिवार नियोजन को सुनिश्चित करना अनिवार्य है।
  • बच्ची का परिवार आयकर के दायरे में नहीं आना चाहिए।

Ladli Laxmi Yojana Objectives | लाडली लक्ष्मी योजना का मुख्य उद्देश्य

  • इस योजना के द्वारा मध्य प्रदेश की बच्चियों को संपूर्ण एजुकेशन तथा आत्मनिर्भर बनाना है।
  • योजना के द्वारा लड़कियों के प्रति सकारात्मक सोच समाज में उत्पन्न करना जरूरी है और इसमें काफी हद तक यह योजना सक्सेसफुल रही है।
  • प्रदेश में बच्चियों का लिंगानुपात ज्यादा होने की वजह से ऐसी योजना का लाना जरूरी था पहले यह लिंगानुपात 927 था लेकिन योजना के आरंभ होने के बाद यह सुधर कर 2022 में 956 हो गया है।
  • इस योजना के बाद लड़कियों के शिक्षा के क्षेत्र में काफी ज्यादा बढ़कर भाग ले रही है और बच्चियां पढ़ाई में अव्वल आ रही हैं।
  • देश में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के साथ-साथ प्रदेश में लड़कियों को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाना बहुत ही जरूरी हो गया था इसलिए इस योजना की शुरुआत की गई।
  • प्रदेश में बाल विवाह जैसी कृति या अभी भी समाज में चल रही थी उसी की रोकथाम के लिए प्रदेश सरकार द्वारा उठाया गया यह एक महत्वपूर्ण कदम है और इससे काफी लाभ भी हो रहा है बतिया आगे पढ़ाई भी कर रही है तथा बाल विवाह जैसी कुरीतियों से बच पा रही है।
  • योजना के माध्यम से बच्चियों को उच्च शिक्षा तथा अच्छा जीवन स्तर देने में काफी योगदान रहा है।
  • योजना के द्वारा महिलाओं के स्वास्थ्य और अच्छी शिक्षा में काफी ज्यादा सुधार देखने को मिला है।

Documents required for Ladli Laxmi Yojana 2.0 | लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 के लिए दस्तावेज

  • बच्ची के माता-पिता का आधार कार्ड
  • बच्ची के माता-पिता का राशन कार्ड
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • बच्ची का आधार कार्ड
  • बच्चे के माता-पिता का आय प्रमाण पत्र
  • मूल निवास प्रमाण पत्र
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • बैंक पासबुक की कॉपी
  • माता पिता का आधार से लिंक मोबाइल नंबर

Ladli Laxmi Yojana 2.0 Registration | लाड़ली लक्ष्मी योजना 2.0 के लिए आवेदन कैसे करें

ऑफलाइन माध्यम से योजना में रजिस्टर करने के लिए आप महत्वपूर्ण दस्तावेज जिन की सूची ऊपर दी गई है इनकी कॉपी लगाकर तथा आंगनवाड़ी से वेरीफाई करवा कर आप नजदीकी ऑफिस में जमा करवा कर अपना रजिस्ट्रेशन पूरा करवा सकते हैं और समय के अनुसार योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं

Ladli laxmi Yojana Offline Registration

लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए आप ऑफलाइन तथा ऑनलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आपको अपने सभी दस्तावेज लेकर नजदीक आंगनवाड़ी केंद्र या किसी योजना के ऑफिस में जाकर सभी दस्तावेज जमा करवाकर तथा फार्म भर के साथ जमा करवा कर भी आप अपना रजिस्ट्रेशन पूरा करवा सकते हैं।

Ladli Laxmi Yojana 2.0 Online Registration

  • . सबसे पहले आपको लाडली लक्ष्मी योजना की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आवेदन पत्र के कॉलम पर क्लिक करना होगा
  • अब आप आवेदन करने वाले पेज पर पहुंच जाएंगे
  • अब आप जनसामान्य पर क्लिक करके अगले पेज पर पहुंच जाएंगे।
  • इस पेज पर पूछे गए जानकारी ध्यान पूर्वक भरें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद अगले पेज पर पहुंच जाएंगे तथा यहां परिवार की जानकारी टीकाकरण की स्थिति इत्यादि भर के नेक्स्ट पर क्लिक करें।
  • अब आप योजना के रजिस्ट्रेशन प्रोसेस के चौथे चरण में है जहां आपको सभी दस्तावेज अपलोड करने होंगे और इसके बाद जानकारी सुरक्षित करें एक क्लिक करके आप अपने फार्म को संपूर्ण रूप से भर सकते हैं।
  • ध्यान रहे फाइनल सबमिट करने से पहले एक बार सभी जानकारियां दोबारा से चेक कर ले और जहां गलती से कुछ गलत भरा गया है तो उसे ठीक करके फाइनल सबमिट करें।

लाड़ली लक्ष्मी योजना में प्रमाण पत्र कैसे देखें ?

  • सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा ऑफिशियल वेबसाइट पर जाने के बाद जनसामान्य वाले कॉलम में प्रमाण पत्र पर क्लिक करना पड़ेगा फिर आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • जहां आप अपने बालिका का पंजीकरण नंबर भरें और खोजे पर क्लिक करें।
  • यहां पंजीकरण की सारी डिटेल खुल जाएंगे उन्हें आप डाउनलोड कर सकते हैं तथा प्रिंट भी ले सकते हैं।

लाड़ली लक्ष्मी योजना मध्य प्रदेश की ऑनलाइन लिस्ट कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा ।
  • अब आप जनसामान्य वाले कॉलम में बालिका विवरण पर क्लिक करें ।
  • अब आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा जिसमें कि आप जिला तथा बालिका के नाम या अन्य ऑप्शन का चयन करके और नीचे नए कॉलम में नाम भरकर खोजे पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने बालिका का विवरण ओपन हो जाएगा।

लाड़ली लक्ष्मी योजना में छात्रवृत्ति पंजीयन कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा ।
  • के बाद जनसामान्य वाले कॉलम में छात्रवृत्ति पंजीयन पर क्लिक करें ।
  • आपके सामने एक नया पेज खुल गया है जिसमें कि आप बालिका पंजीयन क्रमांक नंबर भरकर खोजे पर क्लिक करें ।
  • अब बालिका का विवरण खुल जाएगा और बाकी की सारी जानकारी उसमें भर के आप छात्रवृत्ति पर पत्थर के लिए पंजीयन कर सकते हैं।

Ladli Laxmi Yojana Helpline Number

Leave a Comment