Sarkari Yojana 2022 list| सरकारी योजना सूची

sarkari yojana list 2022, सरकारी योजना,sarkari yojana registration, सरकारी योजना पंजीकरण, गवर्नमेंट स्कीम्स, government schemes 2022, government schemes list 2022,PM Modi yojana 2022, PM Modi yojana apply online

हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा बहुत सारी कल्याणकारी योजनाओं का शुभारंभ किया गया है। इन योजनाओं को सक्सेस बनाने में हमारे प्रधानमंत्री जी का काफी योगदान रहा है। आज इस लेख के द्वारा हम बताएंगे कि हमारे प्रधानमंत्री श्री मोदी जी द्वारा जारी की गई सभी योजनाओं के लाभ, जरूरी दस्तावेज, महत्वपूर्ण तिथियां, पंजीकरण प्रक्रिया और आधिकारिक वेबसाइट के बारे में।

Sarkari Yojana के कार्यक्रम के तहत विभिन्न प्रकार की लाभकारी योजना जैसे कि कृषि कल्याण, विद्युत प्रसारण, युवा कल्याण महिला उत्थान लड़कियों का कल्याण के लिए बहुत सारी योजनाओं का आज शुभारंभ किया गया है

Table of Contents

सरकारी योजनाओं का उद्देश्य

सरकारी योजनाओं का मुख्य उद्देश्य होता है देश की जनता को सुदृढ़ बनाना और उनको आत्मनिर्भर बनाने में मदद करना है क्योंकि आज के समय में आत्मनिर्भर बनना बहुत ही जरूरी है

हमारे देश में गरीबी बहुत ही नीचे स्तर पर है यही कारण है कि हमारे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी अलग-अलग सेक्टर के लिए बहुत सारी योजनाओं का शुभारंभ कर रहे हैं और देश की छोटी-छोटी समस्याओं को सुधारने का प्रयास कर रहे हैं।

इसलिए देश की आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए योजनाओं का लाना बहुत ही जरूरी है और इन योजनाओं के माध्यम से गरीब और जरूरतमंद लोगों की सहायता हो पाएगी जिससे कि देश की आर्थिक स्थिति में काफी सुधार आएगा।

हम यह स्पष्ट शब्दों में कह सकते हैं कि की आर्थिक स्थिति काफी मजबूत हो रही है इसलिए sarkari yojana योजनाओं का काफी अहम हिस्सा होता है।

Sarkari Yojana

Features of Sarkari Yojana 2022 list

योजना का नामSarkari Yojana 2022
किसके द्वाराPM Modi
विभागCentral Government
मुख्य उद्देश्यदेश देश की जनता को लाभ पहुंचाना
लाभार्थीदेश की आम जनता
आवेदन प्रक्रिया आवेदन प्रक्रिया देश क

Sarkari Yojana 2022 List | सरकारी योजना सूची

  • E shram Card Yojana ( श्रमिक कार्ड योजना)
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना
  • प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना
  • जीवन ज्योति बीमा योजना
  • अटल पेंशन योजना
  • प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना
  • प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना
  • प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना
  • प्रधानमंत्री रोजगार योजना
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना
  • आवास योजना लिस्ट
  • रोजगार प्रोत्साहन योजना
  • प्रधानमंत्री उज्जवल योजना
  • आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना
  • गर्भावस्था सहायता योजना ( प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना)
  • पीएम मोदी हेल्थ आईडी कार्ड
  • आयुष्मान सहकार योजना
  • अंत्योदय अन्न योजना
  • नेशनल एजुकेशन पॉलिसी योजना
  • प्रधानमंत्री श्रम योग योगी मानधन योजना
  • प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना
  • पीएम कृषि सिंचाई योजना
  • ऑपरेशन ग्रीन योजना
  • प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना
  • मत्स्य संपदा योजना
  • प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना
  • जीवन ज्योति बीमा योजना
  • Aarogya Setu
  • PM Cares Fund

E Shram Card Yojana | श्रमिक कार्ड योजना

सरकार द्वारा गरीबों तथा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए ही श्रम कार्ड की योजना लांच की है इस योजना का लाभ असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों जैसे कि मजदूर, ड्राइवर, मछली पालन करने वाले, ठेला लगाने वाले आदि लोगों के लिए लाभ मिलेगा

26 अगस्त 2021 को सरकार द्वारा श्रम कार्ड की योजना को लागू किया गया था तथा इस योजना के लिए सरकार लोगों का रजिस्ट्रेशन करवा रही है और जब से सरकार ने यह घोषणा की है कि ₹1000 श्रम कार्ड धारकों को खाते में दिए जाएंगे तो इसके बाद योजना के पंजीकरण में काफी वृद्धि हुई है और कई करोड़ लोगों ने इसमें पंजीकरण करवा लिया है।

इस योजना में पंजीकरण के लिए अपने आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर तथा अपना खाता नंबर की आवश्यकता होती है इसके पंजीकरण के लिए आप किसी भी नजदीक कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर करवा सकते हैं।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्य योजना

इस योजना का अनावरण प्रधानमंत्री जी ने हमारे 20 दिन के लोग डाउन पीरियड के समय में गरीबों तक अनाज के वितरण करने के लिए अनावरण किया था

लॉकडाउन के समय में कोई भी गरीब भूखा न सोए इसलिए इस योजना का अनावरण प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंतर्गत किया गया था इस योजना के अंतर्गत 1.70 करोड की धनराशि सरकार द्वारा आवंटित की गई थी

इस sarkari yojana के अंतर्गत 80 करोड़ लोगों को 759 लाख मैट्रिक टन खदान उत्पन्न कराया गया और गरीबों में वितरित किया गया इस योजना के अंतर्गत गेहूं चावल तथा अन्य खाद्य पदार्थ बांटे गए

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

जैसा कि दिखते कुछ सालों में देखा गया है कि प्राकृतिक आपदाओं के कारण हमारे किसान भाइयों का काफी फसल में नुकसान हो जाता है और उससे किसान परेशान हो क्या पता मत करने की कोशिश करता है या वह बहुत परेशान रहता है उसके सर पर कर्ज का बोझ बढ़ जाता है।

इसी समस्या की निवारण के लिए सरकार ने कदम उठा इसी समस्या की निवारण के लिए सरकार ने कदम उठाते इसी समस्या की निवारण के लिए सरकार ने कदम उठाते हुए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का शुभारंभ किया जिससे कि अगर फसल बोने के बाद कोई प्राकृतिक आपदा जाती है और किसान भाइयों का कुछ नुकसान होता है तो फसल बीमा योजना के तहत उनको उन की फसल की छतिपूर्ति कर दी जाती है

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 8800 करोड रुपए का बजट आवंटित किया गया है तथा इसमें खरीफ की फसलों का 2% तथा रवि की फसलों का 1.5% बीमा कंपनी का भुगतान करना होगा जिस कंपनी के अंतर्गत बीमा किया जाएगा उस कंपनी को।

जीवन ज्योति बीमा योजना

आजकल रिटायरमेंट के साथ-साथ बीमा करवाना भी बहुत ही जरूरी हो गया है क्योंकि समय का कुछ भी नहीं पता होता इसलिए सरकार ने प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना का शुभारंभ किया है।

इस योजना के अंतर्गत आप किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक तथा एलआईसी के द्वारा इसका लाभ प्राप्त कर सकते हैं लेकिन इसके लिए आपको 330 रुपए प्रति साल का प्रीमियम देना होगा और इसके साथ आपको ₹200000 तक का बीमा कवरेज मिल जाएगा।

इस योजना का लाभ उठाने के लिए 18 से 50 साल की उम्र के व्यक्ति किसी भी नजदीक बैंक या एलआईसी ऑफिस में जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं इसके लिए आपको कुछ जरूरी दस्तावेज की जरूरत पड़ेगी जैसे कि आधार कार्ड पैन कार्ड और मोबाइल नंबर तथा इसके साथ ही आपके खाते से प्रीमियम ऑटो डेबिट हो जाएगा और इस पॉलिसी का लाभ आपको मिलता रहेगा।

अटल पेंशन योजना | Atal Pension Sarkari Yojana

अटल पेंशन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा सन 2015 में की गई इस योजना के अंतर्गत 60 साल आयु होने के बाद इसके लाभार्थी को ₹1000 से ₹5000 तक की पेंशन का लाभ मिलेगा

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए 18 से 40 उम्र के व्यक्ति रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं| इस योजना में प्रीमियम उम्र और पेंशन की राशि के अनुसार देना होता है इसकी प्रीमियम की वैल्यू योजना का आवेदन करते समय बता दी जाती है योजना का लाभ लेने के लिए आप किसी भी बैंक में जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं एक बार आवेदन होने के बाद आपके खाते से प्रीमियम का अमाउंट अपने आप ऑटो डेबिट हो जाएगा।

यह प्रीमियम आप 40 साल तक भरना होगा और इसके बाद 60 साल जैसे ही आपकी पूरी होगी सरकार द्वारा आपको इस योजना का लाभ मिलना शुरू होगा इस योजना को असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए पेंशन की सुविधा प्रदान करने के लिए की गई।

प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना

यह योजना हमारे किसान भाइयों के लिए सरकार द्वारा लाई गई है इस योजना के अंतर्गत 180000 से कम आय वाले किसानों को फ्री में इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत किसान भाइयों को 60 वर्ष से ऊपर उम्र होते ही सरकार द्वारा ₹3000 की मासिक पेंशन दी जाएगी। योजना के अंतर्गत 18 से 40 उम्र के दायरे में आने वाले किसान भाई अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं

उस प्रांत की सरकार किसान के प्रीमियम का निर्वहन करेगी इस योजना का शुभारंभ सन 2019 में किया गया था। इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर या किसान अंतोदय पोर्टल पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना

यह योजना किसानों के लिए सरकार द्वारा लाई गई है लाई गई है। इस योजना के अंतर्गत जिन किसानों के पास जमीन इस योजना के अंतर्गत जिन किसानों के पास जमीन 2 हेक्टेयर से कम है यानी कि 4.9 एकड़ से कम है एकड़ से कम है उन किसानों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा इस योजना के अंतर्गत ₹6000 प्रति वर्ष किसानों के खाते में उन किसानों को इस योजना का लाभ प्राप्त होगा इस योजना के अंतर्गत ₹6000 प्रति वर्ष किसानों के खाते में दिए जाएंगे दिए जाएंगे।

यह धनराशि यह धनराशि तीन आसान किस्तों में किसान को दी जाएगी तीन आसान किस्तों में किसान को दी जाएगी। इसका अनुमान खर्च 75 करोड़ रुपए सालाना माना गया है करोड रुपए सालाना माना गया है।

इस योजना का लाभ लेने के लिए इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान भाई किसान भाई किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर या किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं पर जाकर अपना आवेदन करवा सकते हैं इसके लिए इसके लिए किसान भाई अपना किसान भाई अपना जरूरी दस्तावेज साथ में लेकर जाएं जरूरी दस्तावेज साथ में लेकर जाएं। इसके लिए जरूरी दस्तावेज हैं आधार कार्ड पैन कार्ड बैंक की पासबुक इसके लिए जरूरी दस्तावेज हैं आधार कार्ड, पैन कार्ड, बैंक की पासबुक और अपने जमीन के कागजात साथ में लेकर जाएं और अपने जमीन के कागजात साथ में लेकर जाएं।

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

इस sarkari yojana का शुभारंभ सन 2015 में इस योजना का शुभारंभ सन 2015 में हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी किया गया था किया गया था| इस योजना का मुख्य उद्देश्य हमारे देश के इस योजना का मुख्य उद्देश्य हमारे देश के बेरोजगार युवाओं को बेरोजगार युवाओं को उनकी निपुणता के हिसाब से प्रशिक्षण देने के लिए किया गया था उनकी निपुणता के हिसाब से प्रशिक्षण देने के लिए किया गया था|

इस योजना का लाभ जो बच्चे 10वीं तथा 12वीं क्लास के बीच में स्कूल छूट जाने के कारण बेरोजगार हुए बच्चों को प्रशिक्षण दिया जाता है| इस योजना के तहत लगभग 40 तकनीकी क्षेत्र में प्रशिक्षण दिया जाता है इनमें से है हैंडीक्राफ्ट, फूड प्रोसेसिंग, फर्नीचर और फिटिंग, ज्वेलरी कथा लेदर टेक्नोलॉजी, इलेक्ट्रॉनिक तथा हार्डवेयर, कंस्ट्रक्शन आदि में प्रशिक्षण दिया जाता है|

इस प्रशिक्षण की अवधि लगभग 3 से 4 महीने रहेगी यानी कि बच्चे इस प्रशिक्षण को पूरा करके तीन चार महीने बाद अपने काम में लग सकते हैं|

प्रधानमंत्री रोजगार योजना

इस योजना की शुरुआत सन 2021 में प्रधानमंत्री द्वारा की गई| योजना के अंतर्गत सरकार युवाओं को अपना खुद का कारोबार शुरू करने के लिए लोन की सुविधा प्रदान करेगी| इस योजना का लाभ लेने के लिए प्रांत से व्यक्ति आवेदन कर सकते हैं| यह योजना श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अधीन आती है और इसके ऊपर श्रम एवं रोजगार मंत्रालय का चलन रहेगा|

इस योजना के अंतर्गत ₹100000 से ₹1000000 तक का लोन दिया जाएगा तथा इसको लेने वाले के लिए कुछ शर्तें सरकार द्वारा लगाई गई है| जैसे कि लाभार्थी के परिवार की आय 40 हजार से अधिक नहीं होनी चाहिए, इसमें 10% से 20% की सब्सिडी सरकार द्वारा दी जाएगी|

इस योजना के लाभार्थी द्वारा व्यवसाय में ₹200000 से ज्यादा लागत नहीं होनी चाहिए तथा लाभार्थी की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए|

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना

इस योजना की शुरुआत सन 2017 में सरकार द्वारा की गई यह योजना वरिष्ठ नागरिकों के लिए है| इस योजना में 60 या उससे अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक निवेश कर सकते हैं इसमें मैक्सिमम निवेश की राशि है 15 लाख|

इस योजना के अंतर्गत जीएसटी में छूट दी गई है तथा योजना के अंतर्गत ₹1000 से बाढ़ में सो 9250 रुपए तक की निवेश के आधार पर पेंशन दी जाएगी|

जो व्यक्ति इस योजना से संतुष्ट नहीं है वह 15 दिन के अंदर इसे वापस ले सकता है यह योजना भारत सरकार द्वारा चलाई गई है लेकिन इसे एलआईसी के तहत प्रसारित किया जा रहा है|

अगर इस पॉलिसी का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन किया गया है तो 30 दिन के अंदर आपको वापिस ले सकते हैं और अगर ऑफलाइन किया गया है तो आपको 15 दिन के अंदर इसे वापस लेना होगा अगर आप इससे संतुष्ट नहीं है तो|

रोजगार प्रोत्साहन योजना

देश में तेजी से बेरोजगारों की संख्या को बढ़ते हुए देख कर सरकार ने रोजगार प्रोत्साहन योजना का शुरूआत किया है| इस योजना के अंतर्गत सरकार नए रोजगार के अवसर उत्पन्न करना चाहती है| इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा नए कर्मचारियों के भर्ती करने पर 3 वर्षों के लिए 12% ईपीएफ तथा ईपीएस का भुगतान किया जाएगा|

इस योजना के अंतर्गत सरकार का कॉन्ट्रिब्यूशन ईपीएस में 8.33% तथा ईपीएफ में 3.67% दिया जाएगा| यह योजना 1 अप्रैल 2018 को सरकार द्वारा लांच की गई थी

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

उज्ज्वला योजना की शुरुआत 1 मई 2016 को हमारे प्रधानमंत्री जी द्वारा की गई इस योजना का मुख्य उद्देश्य गरीब महिलाओं को एलपीजी सिलेंडर मुफ्त में उपलब्ध करवाना है। इस योजना के अंतर्गत लगभग 9 करोड परिवारों को फायदा पहुंचा है यानी कि लगभग 9 करोड़ परिवारों में एलपीजी गैस के सिलेंडर पहुंचे हैं।

कोविड-19 के चलते सरकार द्वारा एलपीजी गैस का वितरण हर घर तक बिना रुकावट के पहुंचाया गया है। इसके साथ ही निरंतर रूप से सीएनजी गैस का भी सरकार नहीं और बढ़ावा देते हुए सप्लाई पहुंचाई है।

सरकार का उद्देश्य है कि सीएनजी गैस की सप्लाई भी लगभग 100 और जिलों में हर घर तक पाइप लाइन के द्वारा पहुंचाई जाए जिसको की घर-घर में लोग खाना पकाने के लिए इस्तेमाल कर सकें और साथ ही साथ ऑटो मार्केट के विकास को बढ़ावा देने के लिए सरकार सीएनजी का वितरण काफी तेजी से कर रही है।

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का शुभारंभ भारत सरकार द्वारा देश के युवाओं को आत्मनिर्भर बनाना है। हमारे देश की वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण ने 12 नवंबर 2020 को आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना का शुभारंभ किया इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के युवाओं को रोजगार उपलब्ध करवाना है।

जैसा कि हम सब जानते हैं देश में कोरोना के कारण काफी लोग अपनी जॉब से या नौकरी से हाथ धो बैठे हैं और वह बेरोजगार हो गए हैं जिसके चलते सरकार ने एक नई पहल की शुरुआत की है इस पहल के तहत सरकार हमारे देश के कम से कम 4000000 युवाओं को रोजगार प्रदान करने का अवसर देना चाहती है।

इस योजना को देश हमारे देश की अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाना है तथा लोगों के लिए नए रोजगार के नए अवसर पैदा करना है। इस योजना की अंतिम तिथि 31 मार्च 2022 की गई है तथा इसमें वह कर्मचारी आते हैं जिनकी तनख्वाह 15000 या 15000 से कम है उन्हें इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।

गर्भावस्था सहायता योजना | प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 की शुरुआत हमारे प्रिय प्रधानमंत्री जी श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 जनवरी 2017 में शुरू की गई इस योजना का मुख्य उद्देश्य पहली बार गर्भधारण करने वाली या स्तनपान कराने वाली महिला को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

इस योजना का लाभ 19 साल या इससे अधिक उम्र की महिला पहली बार गर्भधारण करने के समय किसी भी नजदीक स्वास्थ्य के अंदर या आंगनवाड़ी में जाकर इसका रजिस्ट्रेशन फॉर्म पढ़ सकती है और इस योजना का लाभ उठा सकती है।

गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए हमारी सरकार ने गर्भावस्था सहायता योजना की शुरुआत की है तथा इस योजना के अंतर्गत गर्भ धारण करने के समय महिलाओं के स्वास्थ्य का पूर्ण रूप से सहायता के तौर पर ₹6000 की राशि प्रदान करती है जिससे कि महिलाएं भरण पोषण कर सकें।

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए महिला को उसके पति का आईडी कार्ड या आधार कार्ड तथा मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड और बैंक पासबुक के डाक्यूमेंट्स चाहिए। डाक्यूमेंट्स लगाने के साथ-साथ फार्म भर के आंगनवाड़ी में जमा करवाने के बाद ₹6000 की राशि तीन किस्तों में सरकार द्वारा दी जाएगी।

प्रधानमंत्री मोदी हेल्थ आईडी कार्ड योजना

सरकार ने हेल्थ डिपार्टमेंट को डिजिटल मिशन के तहत नेशनल हेल्थ आईडी कार्ड प्रदान करने की योजना तैयार की है। हमारे प्रधानमंत्री द्वारा 15 अगस्त 2020 को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की शुरुआत की गई।

इस योजना के अंतर्गत शुरुआत में 6 केंद्र शासित प्रदेशों में इसे लागू किया लेकिन 27 सितंबर 2021 के बाद से इसे पूरे देश में लागू कर दिया गया है तथा इस योजना के अंतर्गत देश के लोगों का हेल्थ रिकॉर्ड तैयार किया गया है और इसके साथ ही लोगों को हेल्थ आईडी कार्ड प्रोवाइड किया जाएगा।

योजना के अंतर्गत लोगों के Health ID Card बनाए जाएंगे और इसके द्वारा लोगों की सेहत का खाता तैयार किया जाएगा जिसमें उनकी सेहत से जुड़ी हुई सारी जानकारियां जमा की जाएंगी।

अंत्योदय अन्न योजना

अंत्योदय अन्न योजना की शुरुआत सरकार द्वारा 25 दिसंबर 2000 को हमारे खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मंत्रालय द्वारा की गई। जैसा कि आप सब जानते हैं हमारे देश में बहुत सारे लोग ऐसे रहते हैं जिनकी आय का कोई संतुलन नहीं है और इस वजह से उन्हें राशन भी प्राप्त नहीं हो पाता है और इसी समस्या के निवारण के लिए सरकार ने वन नेशन वन राशन कार्ड की शुरुआत की है।

इस योजना के तहत 35 किलो राशन प्रदान किया जाएगा जिसमें 20 किलो गेहूं तथा 15 किलो चावल दिए जाएंगे। इस योजना का लाभ प्राप्त करने वाले को ₹2 प्रति किलो गेहूं तथा ₹3 प्रति किलो चावल दिए जाएंगे।

अंत्योदय अन्न योजना मुख्यतः गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों को भरपूर अनाज उपलब्ध कराना इसका मकसद है। सरकार ने इस पहल को समझते हुए इसे आगे बढ़ाया और कोई भी करीब भूखा ना सोए इसलिए इस योजना को लाया गया।

नेशनल एजुकेशन पॉलिसी योजना

मानव संसाधन प्रबंधन मंत्रालय ने नहीं नेशनल एजुकेशन पॉलिसी योजना का शुभारंभ किया है इस योजना का मुख्य उद्देश्य है कि हमारी जो एजुकेशन सिस्टम है उसको और बेहतर बनाने के लिए इस योजना का शुभारंभ किया गया है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य भारत को वैश्विक ज्ञान महाशक्ति बनाना है तथा शिक्षा का सार्वभौमीकरण करना है। इस शिक्षा नीति के अंतर्गत यूजीसी तथा एनआईसीटी विश्वविद्यालयों में एनसीसी को एक विकल्प एक विषय के रूप में लाया जाएगा।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभारंभ 15 फरवरी 2019 को किया गया इस योजना के अंतर्गत असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों जिंदगी तनख्वाह ₹15000 से कम है उन्हें इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

इस योजना का लाभ लेने वाले मजदूरों की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए तथा वह श्रम योगी आयकर दाता नहीं होना चाहिए इसके तहत 7 वर्ष पूरे होने के बाद उस व्यक्ति को ₹3000 प्रति माह तनखा दी जाएग

इस योजना का लाभ जो व्यक्ति नहीं उठा सकता वह है सरकारी कर्मचारी, राज्य कर्मचारी बीमा निगम, नेशनल पेंशन स्कीम, कर्मचारी भविष्य निधि आदि का सदस्य नहीं होना चाहिए

इस योजना का लाभ उठाने के लिए उस व्यक्ति को इसमें निवेश करना होगा यह निवेश उम्र के हिसाब से निर्धारित किया जाएगा जिसकी राशि ₹50 से ₹200 तक हो सकती है।

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना (Mudra Loan Sarkari Yojana)

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना का शुभारंभ हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा सन 2015 में किया गया इस योजना के तहत कोई भी व्यक्ति अगर कोई व्यवसाय शुरू करना चाहता है तो उसे ₹1000000 तक का लोन मिल सकता है।

छोटे उद्यमों को बढ़ावा देने के लिए योजना का शुभारंभ किया गया और इसके लिए सरकार द्वारा 300000 करोड रुपए का बजट तैयार किया गया जिसमें से 1.78 करोड रुपए का आवंटन किया जा चुका है।

मुद्रा लोन योजना के अंतर्गत व्यवसायियों को, दुकानदारों को, कृषि तथा पशुपालन के लिए लोन दिया जाता है। इस योजना का लाभ कमर्शियल वाहन लेने के लिए भी मिल सकता है जैसे कि सामान ढोने के लिए तीन पहिए और ई रिक्शा के लिए यह है योजना का लाभ आसानी से मिल सकता है एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है छोटे उद्योगों के लिए।

पीएम कृषि सिंचाई योजना

साधना की शुरुआत हमारे किसान भाइयों को अच्छे ओपन उपलब्ध करवाने के लिए प्रधानमंत्री द्वारा की गई है। जैसा कि हम सबको पता है अच्छी खेती तभी होती है जब खेती की सिंचाई भी अच्छी हो और अच्छी सिंचाई के लिए सरकार किसान भाइयों को अच्छे उपकरण मुहैया करवाएगी जिससे कि किसानों की फसल खराब ना हो और अच्छी पैदावार कर सकें।

इसके लिए सरकार किसानों को खेती उपकरणों के लिए तथा सिंचाई संसाधनों के लिए सब्सिडी मुहैया करवाएगी जिससे कि किसान आसानी से अपनी सिंचाई के लिए उपकरण खरीद सकें और संपूर्ण रूप से अपने खेतों की सिंचाई कर सकें।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री द्वारा 15 दिसंबर 2021 को की गई। 5 वर्ष के लिए इस योजना को चलाया जाएगा यानी कि सन 2026 तक इस योजना को विस्तृत किया जाएगा तथा इसके लिए सरकार ने 93068 करोड रुपए का अनुमान खर्च लगाया है।

ऑपरेशन ग्रीन योजना

कृषि हमारे देश की अर्थव्यवस्था में एक बहुत ही महत्वपूर्ण रोल अदा करती है और इसी की वजह से हम सभी भारतीय पेट भर के खाना खाकर सोते हैं लेकिन अगर यही कैसे अच्छे से नहीं हो पाए और अनाज उतना ज्यादा उत्पन्न ना हो पाए तो हम सब की भूख कैसे मिटेगी इसी को ध्यान में रखते हुए और फल तथा सब्जियों के उत्पादन को बढ़ावा देने के लिए सरकार द्वारा ऑपरेशन क्लीन योजना की शुरुआत की गई।

इस sarkari yojana के अंतर्गत आलू प्याज तथा टमाटर को इस में रखा गया है और इसके उत्पादन को बढ़ावा दिया गया है जिससे कि देश में भरपूर मात्रा में इनका उत्पादन रहे और किसानों को इसके उत्पादन को बढ़ाने में मदद मिल सके।

इस योजना के तहत किसानों को मंडियों में सब्जी तथा फलों को बेचने में उचित रेट मिले और उन्हें एक जगह से दूसरी जगह स्थानांतरण करने में भी सरकार उचित मदद मुहैया करवाएगी जिससे कि किसानों की फसल आसानी से बिक सके और उचित मूल्य प्राप्त हो सके।

हमारे देश में कृषि का एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका रहती है जिसकी वजह से इतनी बड़ी आबादी के होते हुए भी यहां पर कोई भूखा नहीं सोता है और भरपूर मात्रा में अनाज उत्पन्न होता है इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार इस को और बढ़ावा देने के लिए नई-नई योजनाओं का शुभारंभ करते रहती है इन्हीं में से ऑपरेशन ग्रीन योजना भी एक है और इस योजना को काफी हद तक सक्सेसफुल बनाया जा रहा है साथ ही साथ किसानों का भी इसमें अहम रोल रहा है और उनको पूरी मदद मिल रही है।

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना

हम सब जानते हैं कि देश को आगे बढ़ाने में शिक्षा का कितना अहम रोल रहता है और इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार शिक्षा के लिए बहुत सारी योजनाओं का शिलान्यास करती रहती है इन्हीं में से एक योजना सरकार द्वारा लांच की गई है जिसको बोलते हैं प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना।

हमारे देश के हर बच्चे तथा व्यक्ति को उचित शिक्षा ग्रहण करने का अधिकार है और इसके लिए सरकार अथक प्रयास कर रही है कुछ फ्री की स्कूल तथा योजनाओं का शुभारंभ कर रही है ताकि गरीब गरीब बच्चों को उचित शिक्षा प्राप्त हो सके और वह गरीबी के अभाव में शिक्षा से वंचित ना रहे इसलिए सरकार इस तरह की योजनाओं का शुभारंभ करते रहती है और शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार उचित लोन की सुविधा भी उपलब्ध करवा रही है।

प्रधानमंत्री छात्रवृत्ति योजना के तहत सरकार उन पुलिसकर्मियों, असम राइफल के जवान तथा सीआरपीएफ के जवान जो या तो शहीद हो गए या किसी घटना में विकलांग हो गए उनके बच्चों तथा विधवा औरतों को छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी इस छात्रवृत्ति की राशि ₹2000 से ₹3000 होगी लेकिन उसके लिए सरकार ने एक शब्द लिखिए जिसमें कि उन बच्चों को 60% से अधिक अंक प्राप्त करने होंगे अपनी 12वीं कक्षा की पढ़ाई में वह बच्चे इस छात्रवृत्ति के लिए नामित रहेंगे।

मत्स्य संपदा योजना

सरकार 2024 25 तक हमारे मत्स्य पालन का उत्पादन 3 टन से बढ़ाकर 5 टन तक ले जाना चाहती है और इसके लिए सरकार मत्स्य संपदा योजना का शुभारंभ किया है। जैसा कि आजकल गांव में किसान खेती के साथ-साथ पशुपालन, मुर्गी पालन तथा मछली पालन का भी काम कर रहे हैं इसी के साथ रोजगार को बढ़ावा देते हुए सरकार मछली पालन में भी किसानों का सहयोग कर रही है।

इस योजना के तहत सरकार उन किसानों को जो मत्स्य पालन में रुचि रखते हैं उनकी कुल लागत का 40 फ़ीसदी सा उनको पेय करेगी तथा अनुसूचित जाति जब के लोगों को उसका 60% तक भी सरकार तय करेगी।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य मत्स्य पालन को बढ़ावा देना तथा किसानों की आय को दोगुना करना है और साथ ही साथ हमारी जीडीपी में मत्स्य पालन की योगदान को बढ़ाकर 9% तक ले कर जाना है।

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना

धानमंत्री आयुष्यमान भारत sarkari yojana की शुरुआत हमारे प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा 14 अप्रैल 2018 को डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की जयंती पर शुरुआत की और पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्य जन्म तिथि के दिन 25 सितंबर 2018 को पूरे देश में इस योजना को लागू कर दिया गया।

योजना का मुख्य उद्देश्य गरीबों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करवाना है तथा गरीबों के स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए सरकार उन को लाभ पहुंचाना है।

इस योजना का मुख्य उद्देश्य 10 करोड़ गरीब परिवारों को लाभ पहुंचाना है तथा योजना के तहत 35 लाख सीआरपीएफ के परिवारों का स्वास्थ्य कार्ड बनाया गया है जिसमें की सुरक्षा बल है जैसे सीआरपीएफ सीआईएसएफ बीएसएफ तथा आइटीबीपी के परिवारों को इसका फायदा की दिया गया है और इसमें असम राइफल के जवान शामिल नहीं है।

जीवन ज्योति बीमा योजना

योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री द्वारा 9 मई 2015 को की गई थी इस योजना का मुख्य उद्देश्य है गरीब परिवारों को बीमा योजना मुहैया करवाना। इस योजना के तहत ₹330 का अंशदान देखकर इस बीमा योजना को प्राप्त कर सकते हैं।

इस बीमा योजना की मैच्योरिटी समय रहता है 55 साल और इसे आवेदन के लिए उम्र होती है 18 से 50 साल और ऐसे में अगर किसी की दुर्घटना हो जाती है तो उसके 9 महीने को ₹200000 मिलते हैं सरकार की तरफ से।

इस sarkari yojana के तहत बीमा की सुविधा सरकार बीमा निगम तथा अन्य बीमा कंपनियों के माध्यम से प्रदान कर रही है इस योजना को प्राप्त करने के लिए व्यक्ति अपने बैंक में जाकर आवेदन कर सकता है और ₹330 की राशि उसके खाते से अपने आप कट जाएगी एक बार आवेदन का प्रोसेस पूरा होने के बाद और वह इस योजना का लाभ प्राप्त कर पाएगा।

Aarogya Setu App

जैसा कि हम सब जानते हैं कोरोना महामारी का प्रकोप पूरे विश्व में बहुत ही तेजी से बढ़ रहा था और अभी भी है काफी ज्यादा प्रभावित कर रहा है और इसी को ध्यान में रखते हुए तथा इससे लोगों को सुरक्षा देने के लिए सरकार ने एक कदम उठाते हुए आरोग्य सेतु एप का शुभारंभ किया और इस ऐप को कुछ ही समय में करोड़ों लोगों ने डाउनलोड किया।

इस ऐप का मुख्य उद्देश्य है लोगों को करुणा की जानकारी उपलब्ध करवाना इस ऐप के ऊपर सरकार ने कोरोना से जुड़ी हुई जानकारी दी और इससे यह भी बताया कि आपके आसपस कोई कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति तो नहीं है या फिर हाल ही में कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव था वह तो नहीं है इससे वह अपने आप को उचित दूरी पर रख सके।

PM Cares Fund

हमारे प्रधानमंत्री द्वारा Corona से पीड़ित परिवारों को राहत प्रदान करने के लिए एक प्रधानमंत्री केयर फंड की शुरुआत की गई इस फंड में जो भी व्यक्ति अपनी इच्छा से पैसे जमा करवा सकता है जिसके तहत पीड़ित परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान की गई है।

इस महामारी नहीं पूरे विश्व को अपने प्रकोप से जकड़ लिया और बहुत ही ज्यादा तेज गति से फैलने लग गई तभी इस से बचाव के लिए पीएम केयर्स फंड की शुरुआत की गई और इसमें शुरुआत के समय बहुत ही उद्योगपतियों ने तथा आम लोगों ने योगदान दिया और इस फंड की सहायता से बहुत से गरीब और जरूरतमंद लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान की गई।

इसी के चलते इस वैक्सीनेशन के तहत सरकार ने अलग-अलग चरणों में किसे दिया गया जैसा कि सरकार ने सबसे पहले फ्रंट लाइन वर्कर को कोरोना की वैक्सीन दी गई उसके बाद 60 साल से ज्यादा उम्र के व्यक्तियों को इसका डोज दिया गया और उसके बाद 35 से 60 साल तक के व्यक्तियों को इसका डोज दिया गया दिया गया

18 से 35 साल के व्यक्तियों को वैक्सीन लगने के बाद अब नए चरण में 15 साल से 18 साल के बच्चों को कोरोना वैक्सीन का टीका दिया जा रहा है और छोटे बच्चों पर भी इसका ट्रायल अभी चल रहा है आने वाले समय में छोटे बच्चे को भी कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी अभी कुछ समय पहले ही हमने 140 करोड़ भारतीयों को Corona का टिक्का सक्सेसफुली दिया गया है

कोरोना टीकाकरण

देश में करुणा को लेकर काफी भय पैदा हो गया था और इसी के चलते हमारे कुछ वैज्ञानिकों ने करुणा के लिए वैक्सीन तैयार की और इसी को बढ़ावा देते हुए सरकार ने इसे काफी तेजी से पोस्ट किया और करोड़ों लोगों को करुणा की वैक्सीन दी गई

Leave a Comment