Haryana Amrit Sarovar Yojana 2022 | Nirmal Sarovar Yojana

Haryana Amrit Sarovar Yojana | Nirmal sarovar Yojana | अमृत सरोवर योजना हरियाणा | निर्मल सरोवर योजना हरियाणा

हमारे देश की प्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने अमृत सरोवर योजना का शुभारंभ किया है इस योजना के तहत देश के सभी प्रदेशों में हर जिले के 75 तालाबों को अमृत सरोवर योजना के द्वारा जीर्णोद्धार किया जाएगा। इस योजना के तहत प्रदेश की सरकारे अपने प्रत्येक जिले में 75 तालाबों का सौंदर्य करण करेंगे तथा उनका साफ सफाई व पानी की व्यवस्था करेंगे।

देश के अंदर पानी एक बहुत ही बड़ी समस्या बन चुका है और ऐसी समस्या को ध्यान में रखते हुए हमारे देश के कई लाखों तालाब या तो सूख गए हैं या वह खत्म होने की कगार पर है और उनमें बहुत सारे तालाब सिर्फ बारिश पर ही निर्भर है। इसी को ध्यान में रखते हुए हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी ने अमृत सरोवर योजना का शुभारंभ किया है।

इस योजना के तहत तालाबों में साफ सफाई तथा पानी की व्यवस्था की जाएगी ताकि गर्मियों में पशु पक्षी भी पानी पी सके। देश के तालाबों की हालत बहुत ही खराब हो चुकी है और अब इनका सुधार करना बहुत ही जरूरी है क्योंकि अगर अभी सुधार नहीं हो पाया तो आने वाले कुछ ही समय में यह लगभग समाप्त हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें:- कन्या विवाह योजना, हरियाणा अधिगम योजना

Haryana amrit sarovar yojana | हरियाणा अमृत सरोवर योजना 2022

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने 1 मई 2022 को प्रधानमंत्री जी द्वारा जारी की गई अमृत सरोवर योजना को आगे बढ़ाते हुए अमृत सरोवर योजना को हरियाणा प्रदेश में लागू करने का फैसला किया तथा 1 मई से इसे हर जिले के 75 तालाब को स्वच्छ बनाने का बीड़ा उठाया है।

प्रदेश के तालाबों की हालत बहुत ही नाजुक हो चुकी है उनमें से बहुत सारे दो या तो विलुप्त होने की कगार पर है या उनके अंदर इतनी ज्यादा गंदगी हो चुकी है कि वह अब इस्तेमाल करने के लायक नहीं बचे। प्रदेश के लिए यह एक गंभीर समस्या बनी हुई थी जिसको कि हमारे मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने ध्यान में रखते हुए और देश की सरकार का साथ देते हुए इस योजना को लागू किया है।

योजना के तहत प्रदेश के 22 जिलों में प्रत्येक जिले के 75 तालाबों का चयन किया गया है इसके अनुसार 1675 तालाबों का जीर्णोद्धार किया जाएगा। इसके साथ ही इन तालाबों में साफ-सफाई खुदाई तथा तालाब के किनारों पर टिपल और बाढ़ जैसे पेड़ लगाए जाएंगे जिससे कि तालाब के आसपास ठंडा और शांत माहौल रहे।

1675 तालाबों में से 115 तालाब शहर और 1535 तालाब गांव से चयन किए गए हैं अब इन तालाबों में सफाई तथा खुदाई का काम करके इन्हें पक्का किया जाएगा और इनका सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

Haryana Nirmal Sarovar Yojana | हरियाणा निर्मल सरोवर योजना

हरियाणा प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी ने 1 मई 2022 से प्रधानमंत्री जी की अमृत सरोवर योजना को आगे बढ़ाते हुए निर्मल सरोवर योजना का शुभारंभ किया है इस योजना के तहत प्रदेश के 111 निर्मल तालाब बनाए जाएंगे।

इस योजना के तहत तालाब में साफ-सफाई तथा सौंदर्य करण का कार्य काफी तेजी के साथ किया जाएगा प्रदेश में कुल 18000 से भी ज्यादा तालाब है पहले चरण में 5000 तालाबों का सौंदर्य करण तथा साफ सफाई का ध्यान रखा जाएगा।

योजना के तहत 15 अगस्त 2022 तक पहले चरण की 5000 तालाबों का कार्य पूरा किया जाएगा तथा इसके बाद अगले चरण में अगले 10,000 तालाबों को इस योजना से जोड़ा जाएगा और ऐसे करते हुए संपूर्ण प्रदेश में निर्मल सरोवर योजना को आगे बढ़ाते हुए पूरा कार्य किया जाएगा।

Amrit sarovar yojana
haryana amrit sarovar yojana

Amrit Sarovar Yojana 2022 Key Heighlights

योजना का नाम अमृत सरोवर योजना | निर्मल सरोवर योजना
किसने शुरू की हरियाणा सरकार ने
किसके द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा
शुरू करने की तारीख 1 मई 2022
योजना के लाभ प्रदेश के गांवों तथा शहरों के तालाबों का जीर्णोद्धार करना
योजना का उद्देश्य इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के तालाबों को स्वच्छ साफ तथा सुंदर बना कर प्रदेश में पानी की समस्या से बचना और पशु पक्षियों के लिए पानी उपलब्ध कराना।
साल 2022
प्रदेश हरियाणा
आधिकारिक वेबसाइट अभी कोई आधिकारिक वेबसाइट जारी नहीं की गई है
टोल फ्री नंबर अभी जारी नहीं हुआ है

हरियाणा अमृत सरोवर योजना के उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य है प्रदेश में नए तालाब बनाना तथा पहले से बने हुए तालाबों को साफ सफाई और सुंदरता का ध्यान रखते हुए उनमें पानी की व्यवस्था करवाना।

गर्मी के मौसम में अगर तालाब में स्वच्छ पानी की व्यवस्था रहे तो पशु और पक्षियों को आसानी से पानी उपलब्ध हो सकता है और गर्मी में पशु पक्षी आराम से पानी पीकर तालाब के आसपास लगे हुए पेड़ के नीचे आराम कर सकते हैं।

प्रदेश में 18000 से ज्यादा तालाबों को अलग-अलग चरण में साफ सुथरा बनाना और सुंदरता के साथ सभी में पानी पहुंचाना है।

पहले चरण में कुल 1675 तालाबों को रखा गया है इसका अर्थ यह है कि प्रत्येक जिले से 75 तालाबों का चयन किया गया है और इन्हीं तालाबों से कार्य शुरू किया जाएगा।

15 अगस्त 2022 तक प्रदेश के 5000 तालाबों को इस योजना के तहत साफ सुथरा बनाया जाएगा। और इसके बाद अगले चरण को ध्यान में रखते हुए बचे हुए तालाबों को स्वच्छ बनाने का प्रयास किया जाएगा।

निर्मल सरोवर योजना के लाभ

  • शहर तथा गांव के तालाबों को साफ सुथरा बनाया जाएगा।
  • योजना के तहत जिन तालाबों में बहुत ही खराब पानी है या जो पानी सूख गया है उन तालाबों को साफ करके उनमें ताजा पानी भरा जाएगा और उनकी साफ सफाई का विशेष ध्यान रखा जाएगा।
  • तालाबों में पानी भरे रहने की वजह से जल स्तर को भी रोका जा सकेगा क्योंकि जैसा कि हम सब देख रहे हैं पानी का जलस्तर बहुत ही तेजी से गिर रहा है।
  • ज्यादा से ज्यादा तालाबों को नेहरू के साथ जोड़ा जाएगा तथा उनमें ताजा पानी की व्यवस्था की जाएगी।
  • जो तालाब लगभग समाप्त होने की कगार पर है उन तालाबों को एक नया जीवन मिलेगा और नए सिरे से उनमें पानी पर्याप्त किया जाएगा।
  • पशु तथा पक्षियों को उचित मात्रा में पानी की व्यवस्था रहेगी तथा जरूरत se पशु और पक्षी इन तालाबों में पानी पी सकेंगे।

हमारे हमारे द्वारा दी गई है जानकारी आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और साथ में पोस्ट को शेयर भी करें।

अन्य पोस्ट भी पढ़े:-

Leave a Comment